Short Essay on Corruption in Hindi – भ्रष्टाचार पर लघु निबंध

Short Essay on Corruption in Hindi: Read and share Short Essay on Corruption in Hindi for kids, school students, and college students. We have the largest collection of essay topics and ideas. Find Essay writing topics for students, college students, kids, and school students.

भ्रष्टाचार बेईमानी या आपराधिक अपराध का एक रूप है जो किसी व्यक्ति या संगठन द्वारा किया जाता है जिसे किसी के व्यक्तिगत लाभ के लिए अवैध लाभ या दुरुपयोग की शक्ति प्राप्त करने के लिए अधिकार की स्थिति में सौंपा जाता है।


Short Essay on Corruption in Hindi

भ्रष्टाचार: वास्तव में यह क्या है? (Corruption: What Exactly is It?)

  1. भ्रष्टाचार मौद्रिक या भौतिक लाभ प्राप्त करने के लिए अवैध प्रथाओं में लिप्त होने का एक कार्य है।
  2. भ्रष्टाचार किसी और के वास्तविक अधिकारों से समझौता करता है और राष्ट्र के विकास के लिए एक बड़ा बाधक है।
  3. इसका परिणाम गरीबी और बेरोजगारी में भी होता है और इसके लोगों के जीवन की गुणवत्ता को कम करता है।
  4. भ्रष्टाचार राष्ट्र की समग्र प्रगति और उसके लोगों की सामान्य भलाई को प्रभावित करता है।
  5. भ्रष्टाचार किसी देश की अर्थव्यवस्था को और भ्रष्टाचार देश की ढांचागत वृद्धि को कम करता है।
  6. यह केवल एक विशिष्ट क्षेत्र तक सीमित नहीं है और इसमें कार्यालयों, विभागों, क्षेत्रों आदि की एक विस्तृत श्रृंखला शामिल है।
  7. लोगों को इसके प्रभावों के बारे में जागरूक करके और भ्रष्टाचार विरोधी सख्त कानूनों को लागू करके ही इससे प्रभावी ढंग से निपटा जा सकता है।

भ्रष्टाचार पर पंक्तियां (Lines on Corruption)

  1. भ्रष्टाचार एक अपराध है और इससे लड़ने के लिए सभी को उचित कदम उठाने चाहिए।
  2. भारत में, भ्रष्टाचार प्रत्येक प्रणाली स्तर पर, निजी और सार्वजनिक दोनों क्षेत्रों में निहित है।
  3. भ्रष्टाचार इस हद तक बढ़ गया है कि इसने आपराधिक गतिविधियों को जन्म दिया है।
  4. हर स्तर पर सूचना का अधिकार भ्रष्टाचार से लड़ने का एक बड़ा हथियार है।

भ्रष्टाचार लघु निबंध (Corruption Short Essay)

भ्रष्टाचार एक जहर है जो समाज, समुदाय और देश में गलत लोगों के मन में फैलाया गया है। छोटी-छोटी इच्छाओं को पूरा करने के लिए कुछ अनुचित लाभ प्राप्त करने के लिए यह सार्वजनिक संसाधनों का दुर्व्यवहार है। यह किसी के द्वारा चाहे सरकारी या गैर-सरकारी संगठन में शक्ति और पद दोनों के अनावश्यक और गलत उपयोग से संबंधित है। इसने व्यक्ति के साथ-साथ राष्ट्र के विकास को प्रभावित किया है और आय में कमी आई है। यह समाज और समुदाय में असमानताओं का एक बड़ा कारण है। यह सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक रूप से सभी पहलुओं में राष्ट्र के विकास और विकास को प्रभावित करता है।


भ्रष्टाचार पर लघु निबंध (Short Essay on Corruption)

हमारे देश में भ्रष्टाचार कई सदियों से चला आ रहा है और यह दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है जिससे हमारे देश की स्थिति बद से बदतर होती जा रही है। भ्रष्टाचार किसी विशेष पद पर बैठे व्यक्ति का दुरुपयोग है।

ऐसे लोग अपने पदों का फायदा उठाकर कालाबाजारी, गबन, रिश्वत आदि में लिप्त हो जाते हैं जिससे हमारे देश का हर वर्ग प्रभावित होता है। इससे हमारे देश की आर्थिक प्रगति भी प्रभावित होती है। भ्रष्टाचार एक दीमक की तरह है जो धीरे-धीरे हमारे देश को कमजोर कर रहा है।

आज हमारे देश में हर सरकारी कार्यालय, गैर सरकारी कार्यालय और राजनीति भ्रष्टाचार से भरी पड़ी है, जिससे आम आदमी बहुत परेशान है। हमें जल्द ही इसके खिलाफ आवाज उठानी होगी और इसे कम करना होगा अन्यथा हमारा पूरा देश भ्रष्टाचार का शिकार हो जाएगा।

Education Short Essay In Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.